मेरी अम्मी की पराये मर्द से चुद गयी- 2

हॉट मॉम सेक्स स्टोरी मेरी अम्मी की कामवासना की है. किरायेदार अंकल ने मेरी अम्मी को अपने लम्बे मोटे लंड की फोटो दिखा दी। मेरी अम्मी की चूत में चुदाई की आग जल उठी।

दोस्तो, मैं असगर आपको अपनी अम्मी की चुदाई की कहानी बता रहा था।
कहानी के पहले भाग
मेरी अम्मी की अन्तर्वासना
में आपने देखा कि मेरे घर में रह रहे अंकल और आंटी की चुदाई मैंने देखी। वो दोनों मेरी अम्मी की चुदाई की बातें भी कर रहे थे।

अब आगे हॉट मॉम सेक्स स्टोरी:

मैं समझ गया था कि अंकल मेरी अम्मी को पटाकर उनको चोदने की कोशिश करेंगे।
मैं देखना चाहता था कि क्या अम्मी किसी पराये मर्द से चुदना चाहेगी या नहीं? मैं अब अंकल और अपनी अम्मी पर नजर रखने लगा।

उस दिन के बाद मैंने देखा कि अंकल अम्मी के ज्यादा से ज्यादा करीब आने की कोशिश करने लगे और बातें भी करने लगे।
लेकिन अम्मी कुछ ज्यादा रेस्पॉंन्स नहीं देती थी, इतना जरूर था कि अम्मी उनको देखकर मुस्करा देती थी।

कुछ दिन के बाद आंटी अपने मायके चली गयी और मेरे अब्बू एक रिश्तेदार की शादी में चले गए।
मैं और अम्मी घर में अकेले रह गए।

अब अंकल हमारे यहां पर खाना खाने लगे क्योंकि हमारे बीच में अच्छे संबंध थे।
जब वो आते थे तो अक्सर मेरी अम्मी की गांड को घूरते रहते थे। जब मैं भी उनको देखने लगता था तो वो फिर अपनी नजर हटा लेते थे।

वहीं अम्मी को देखकर ऐसा नहीं लगता था कि वो भी अंकल का लंड अपनी गांड या चूत में लेने की इच्छा रखती हो।

उन दिनों कोरोना का समय चल रहा था तो चार दिन के बाद पूरी तरह से लॉकडाउन हो गया और अंकल की पत्नी यानि कि मेरी आंटी अपने मायके में ही फंस गयी।
मेरे अब्बू भी वापस नहीं आ सके।

अब घर में मैं अंकल और अम्मी ही रह गए।

चूंकि अंकल को पता था कि अम्मी को हफ्ते में 4 बार लण्ड चाहिए ही होता है इसलिए वो इसी आस से अम्मी को देखते थे कि उनको भी अम्मी की तरफ से कोई इशारा मिले।
लेकिन अम्मी अभी कोई इशारा नहीं दे रही थी।

कई दिन बीत चुक थे।

एक शाम को अंकल अम्मी के पास आए और एक लिफाफा देकर बोले- भाभी, आपको इसकी जरूरत थी शायद! बाद में खोलकर देख लेना। मेरी सुलेखा (अंकल की पत्नी और मेरी आंटी) से बात हुई थी। आप कुछ गलत मत समझना। अगर आपको इस्तेमाल करना नहीं आता है तो हम व्हाट्सऐप पर बात कर लेंगे।

ये बोलकर वो चले गए।
अम्मी ने उसे खोलकर देखा तो वो चौंक सी गई।
फिर उसको चुपचाप वहीं पर रखकर काम में लग गयी।

मैं भी देखना चाहता था कि ऐसा क्या लाए थे वो।
मैंने मौका देखकर उसे खोला तो उसमें एक क्रीम थी। उस पर चूचियों का फोटो बना हुआ था।

मैं समझ गया कि ये चूचियों पर लगाने की क्रीम है।
मैंने उसको वैसे ही रख दिया।

मैं अब शाम का इंतजार करने लगा।
उससे पहले मैंने अम्मी के फोन में से व्हाट्सऐप को हैक कर लिया ताकि उन दोनों की चैट को पढ़ सकूं।

रात के करीब 10 बजे अंकल का मैसेज आया जो मैंने भी देख लिया।
अम्मी ने मैसेज पर बात करना शुरू किया।
अम्मी- ये आप क्या लेकर आ गए?

अंकल- भाभीजी, दरअसल सुलेखा की आपसे बात हुई होगी इसको लेकर! आपने बताया होगा कि असगर के अब्बू से आपको अपने दोनों दूधों को मसलवाने में बहुत मज़ा आता है और एक दूध मसलते हुए वो जब दूसरा दूध मुंह में लेकर चूसते हैं तो आपको बहुत अच्छा लगता है। लेकिन आपने बताया होगा कि अब आपके दूध ढीले पड़ गए हैं।

अंकल ने आगे लिखा- अगर पहले जैसे टाइट हों तो बहुत मज़ा आये … तो इसलिए मैं ले आया। इसकी मालिश करने से आपके दोनों दूध अच्छे खासे टाइट हो जायेंगे जिससे आपको पहले जैसा मज़ा आने लगेगा। आप तो जानती हैं कि अगर मर्द और औरत अच्छे से चुदाई करें तो न सिर्फ मर्द को औरत को चोदने का मज़ा आना चाहिए बल्कि औरत को चुदवाने में भी मजा आना चाहिए। मुझे भी ऐसी औरतें बहुत पसंद हैं जिनके दूध बड़े और सख्त हों और गांड बिल्कुल आपकी गांड की तरह बड़ी, मोटी और मांसल हो। क्योंकि ऐसी औरतें काफी कामुक होती हैं और लम्बे, मोटे और सख्त लंड से चुदवाने में उन्हें बहुत मज़ा आता है। ऐसी औरतें न सिर्फ मर्द से चुदवाती हैं बल्कि मर्द को भी दबाकर चोदती हैं। वो शांत होकर बिस्तर पर नहीं पड़ी होतीं और मैं खुद भी काफी कामुक हूं। इसलिए मैं खुद अपने लण्ड की हफ्ते में 3 बार तेल से मालिश करता हूं इसलिए मेरा लंड काफी लंबा और मोटा है और खूब सख्त भी है। एक घंटे की चुदाई के बाद ही इसकी प्यास बुझती है। सुलेखा तो 10 मिनट में ही झड़ जाती है और पूरा लण्ड भी नहीं लेती है।

अंकल लिखते रहे- सुलेखा कहती है कि बड़ा लंबा और मोटा है आपका! अब मैं क्या करूं? इतना लंबा और मोटा है तो मेरी क्या गलती है। अब पत्नी इसको अपनी चूत में नहीं लेगी तो कौन लेगा? मैं आपको अपने सख्त लण्ड की फ़ोटो भेजता हूं। आप खुद देखिए कैसा है। अगर औरत इसको कायदे से लेगी तो कितना मज़ा आएगा उसको! आप बुरा मत मानना … मैंने बोला था अपनी बीवी को कि अगर आप होतीं तो दबा के पूरा लंड ले लेतीं मेरा!

दोस्तो, मैं अंकल के सारे मैसेज पढ़ रहा था।
अम्मी भी सारे मैसेज पढ़ रही थी लेकिन कोई जवाब नहीं दे रही थी।

फिर अंकल ने अपने लंड की 3-4 फोटो भी भेज दी।
अंकल ने साथ में लिख दिया कि अगर पसंद न आए तो सारे मैसेज डिलीट कर देना।
कुछ देर तक अम्मी व्हाट्एप पर रहीं लेकिन कुछ रिप्लाई नहीं किया।
फिर वो सो गईं।

मैं खुश हो गया कि अम्मी ने अंकल की बातों का कुछ रेस्पॉन्स नहीं दिया।
अंकल अगले 2-3 दिन तक अम्मी के पास मैसेज करते रहे लेकिन अम्मी कुछ रिप्लाई नहीं देती थी।

मगर मैं ये भी देख रहा था कि अम्मी ने अभी तक अंकल के किसी भी मैसेज को डिलीट नहीं किया था।

एक दिन मैंने देर रात को अम्मी के रूम में झांककर देखा तो वो अपने फोन को लेकर लेटी थी।
वो ध्यान से फोन में कुछ देख रही थी। फिर वो धीरे धीरे से अपनी चूत को भी सहलाने लगी।

मैं सोच रहा था कि फोन में ऐसा क्या देख रही है अम्मी!
कुछ देर के बाद वो उठी और बाथरूम में घुस गई।
अम्मी का फोन बेड पर ही पड़ा था।

जल्दी से मैं अंदर गया और फोन उठाकर देखा।
मैंने पाया कि उसमें अंकल के लंड की फोटो खुली हुई थी।
मैं देखकर वापस आ गया और बाहर आकर खड़ा हो गया।

दो मिनट के बाद अम्मी बाहर आ गई।
अब वो मैक्सी में थी, आकर वो बेड पर लेटी और मैक्सी उठाकर अपनी जांघों तक कर ली।

अम्मी ने अपनी दोनों टांगें घुटनों से मोड़कर ऊपर कर लीं और फिर फोन में जूम करके देखने लगी।
फिर वो अपनी चूत को सहलाने लगी।

अम्मी को अपनी चूत को सहलाने में बहुत मजा आ रहा था।

अब अम्मी ने फोन को चूत पर रख लिया और उससे सहलाने लगी।
शायद वो फोन में अंकल के लंड को अपनी चूत पर लगाकर उसकी कल्पना कर रही थी।

मैं समझ गया कि हो न हो अम्मी भी अब अंकल के मोटे लण्ड से चुदवाने के लिए बेताब है लेकिन संकोच कर रही है।

फिर थोड़ी देर बाद वो ऐसे ही नंगी चूत के साथ सो गई।
अगले दिन सब कुछ नॉर्मल रहा।

फिर दिन में फल वाले से और सब्जी वाले से अम्मी ने सामान लिया।
मैंने देखा कि फल लेते समय अम्मी के चेहरे पर स्माइल थी।

उसने कई सारे केले लिये थे।
मैं सोच में पड़ गया कि अगर चूत में देना होता तो एक ही केला काफी था। इतने केले क्यों लिये?

फिर मैं उनके रूम में झांक कर देखने लगा।
फिर वो इंच टेप लेकर आई और केलों को नापने लगी। सबसे लम्बे केले की लम्बाई नापने के बाद उसने बाकी के केलों को एक तरफ रख दिया।

वो केला देखकर मैं समझ गया क्योंकि वो केला अंकल के लंड के जितना ही लम्बा दिख रहा था मुझे!
उसके बाद अम्मी ने फोन लिया और देखने लगी।

उसके बाद फोन देखते हुए वो केले को मुंह में लेकर चूसने लगी।

कुछ देर चूसने के बाद वो उस केले को अपनी चूत पर रगड़ने लगी।
अब अम्मी के मुंह से आहें निकल रही थीं।
वो अपनी चूत पर केले को रगड़ते हुए उसे हल्का सा अंदर भी ले रही थी।

अम्मी की ये हालत देखकर मैं खुद भी गर्म हो गया था और अब मन कर रहा था कि मैं ही उनकी चूत में अपना लंड डाल दूं।
मैं अब समझ गया था कि अम्मी की भी इच्छा है कि वो अंकल के लंड से चुदे।
वो अंकल से बोल नहीं पा रही थी।

अब गर्म होकर अम्मी केले को अपनी चूत में अंदर डालने लगी।
लेकिन वो केला ज्यादा अंदर नहीं जा पा रहा था।
केला मोटा भी था और टेढ़ा भी था।

अम्मी ने अपनी पूरी टांगें खोलकर उस केले को चूत में लेने की कोशिश की लेकिन आधे से ज्यादा केला उनकी चूत में जा ही नहीं पा रहा था।
अब उससे ज्यादा केला लेने की अम्मी की हिम्मत नहीं हो रही थी। तो अम्मी ने उस केले को चूत में लिए हुए ही अपनी जांघों को भींच लिया।

एक हाथ से अम्मी अपनी चूचियों को मसलने लगी।
दूसरे हाथ की उंगली को वो मुंह में लेकर चूसने लगी और जांघों को आपस में रगड़ने लगी ताकि वो केले को अपनी चूत में अंकल के लंड की तरह महसूस कर सके।
मुझे ये देखकर बहुत मजा आ रहा था कि अम्मी के अंदर अंकल के लंड से चुदने की इतनी ज्यादा प्यास है।

बहुत ही कामुक नजारा था वो!
मैं तो ये देखकर बहुत गर्म हो गया था।

अम्मी लगातार अपनी चूचियों को मसलते हुए अपनी उंगली को चूस रही थी और बार बार गांड ऊपर उठा रही थी जैसे अंकल के लंड को ले रही हो।

फिर वो केले को चूत से निकाल कर चूसने लगी।
शायद अम्मी की चूत का रस उस पर लग गया था। शायद अम्मी को अंकल के लंड के रस की फीलिंग उसमें से आ रही थी।

वो अब पेट के बल लेट गयी और तकिया को चूमने लगी।
शायद अम्मी अब तकिया को अंकल सोच रही थी।
वो तकिये से अपने दूधों को दबाने लगी जैसे अंकल को अपने दूध पिला रही हो।

फिर वो अपने आप ही बड़बड़ाने लगी- आह्ह … आराम से पियो … बहुत तेज काट रहे हो … आह्ह … स्स्स … निप्पलों को आराम से चूसो।
मैं हैरान था कि अम्मी अब अंकल के साथ कल्पना की दुनिया में खो गई थी।

अब वो बोली- सुलेखा तो पागल है जो तुम्हारे लाज़वाब लण्ड से चुदाई का मज़ा नहीं लेती है। अगर तुम मेरे पति होते तो 9 इंच लम्बा लंड पाकर मैं तो रोज ही पूरी रात चुदवाती। इतने लम्बे लंड वाला पति किसी किसी को नसीब होता है।

ये कहते हुए हॉट मॉम सेक्स से पागल होकर नीचे से अपनी चूत में उंगली भी कर रही थी।
उसकी चूत की गर्मी बहुत ज्यादा बढ़ गई थी और लग रहा था जैसे कि अम्मी को एक लंड की सख्त जरूरत है।
वो जैसे लंड के लिए तड़प रही थी।

अब चूत को कुछ देर सहलाने के बाद अम्मी ने लाइट बंद कर दी।
फिर मैं भी वहां से चला गया।
मैं आज अम्मी का ये सेक्सी रूप देखकर बहुत हैरान था।

मुझे लगने लगा था कि अंकल के लंड का जादू अम्मी पर असर कर गया है।
अभी तक मैंने अम्मी और अब्बू की चुदाई ही देखी थी।
अब मेरा मन अंकल और अम्मी की चुदाई देखने का कर रहा था।

आपको मेरी हॉट मॉम सेक्स स्टोरी कैसी लग रही है, मुझे जरूर बताएं। मैं आप सबकी प्रतिक्रियाओं का इंतजार करूंगा।
[email protected]

हॉट मॉम सेक्स स्टोरी का अगला भाग: मेरी अम्मी की पराये मर्द से चुद गयी- 3

Leave a Comment

xxx - Free Desi Scandal - fuegoporno.com - noirporno.com - xvideos2020 - xarabvideos - bfsex.video